तीन तलाक बिल हुआ राज्यसभा से पास

2019-08-02 09:48:06
तीन तलाक बिल मंगलवार को राज्यसभा से पास हो गया। लेकिन, राज्यसभा में इसे पास कराने से पहले विपक्षी दल इसे सेलेक्ट कमेटी के पास भेजने पर अड़े हुए थे। हालांकि, सेलेक्ट कमेटी के पास भेजे जाने का प्रस्ताव वोटिंग के बाद राज्यसभा में गिर गया। आइये बताते हैं इस बिल की खास बातें- KTV24News कब दर्ज होगा केस : - यह अपराध संज्ञेय (इसमें पुलिस सीधे गिरफ्तार कर सकती है) तभी होगा, जब महिला खुद शिकायत करेगी। - खून या शादी के रिश्ते वाले सदस्यों के पास भी केस दर्ज करने का अधिकार रहेगा। - पड़ोसी या कोई अनजान शख्स इस मामले में केस दर्ज नहीं कर सकता है। समझौते की शर्त : - कानून में समझौते के विकल्प को भी रखा गया है। - पत्नी की पहल पर ही समझौता हो सकता है, लेकिन मजिस्ट्रेट के द्वारा उचित शर्तों के साथ। जमानत के नियम : - मजिस्ट्रेट इसमें जमानत दे सकता है, लेकिन पत्नी का पक्ष सुनने के बाद। गुजारे के लिए प्रावधान : -तीन तलाक पर कानून में छोटे बच्चों की कस्टडी मां को दिए जाने का प्रावधान है। - पत्नी और बच्चे के भरण-पोषण का अधिकार मजिस्ट्रेट तय करेंगे, जिसे पति को देना होगा। डेढ़ साल में तीन तलाक के 430 मामले : - 2017 के जनवरी से 2018 के 13 सितंबर तक 430 घटनाएं सामने आईं - 229 इनमें से सुप्रीम कोर्ट के फैसले से पहले के हैं - 201 सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद के हैं सर्वाधिक मामले यूपी में : - 126 केस सामने आए यूपी जनवरी 2017 से पहले -120 केस सामने आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद

संबंधित ख़बरें

Advertise With Us