पानी से चलेगी हाइड्रोजन फ्यूल सेल बस

2018-11-23 20:35:19
नई दिल्ली: वाहन चलाने में सबसे बड़ी समस्या आजकल पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतें और प्रदूषण होता है लेकिन टाटा मोटर्स अब ऐसी बसें लानें वाली हैं जिनमें आपको पेट्रोल-डीजल भरवाने की टेंशन नहीं लेनी पड़ेगी और ना ही ये बस पर्यावरण को किसी भी तरह से नुकसान पहुंचाएगी। दरअसल ये एक हाईड्रोजन फ्यूल सेल बस है। टाटा मोटर्स ने हाल ही में इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के साथ कोलॉबोरेशन कर भारत की पहली हाइड्रोजन बस का निर्माण किया है जिसकी टेस्टिंग शुरू हो चुकी है।चलिए आपको बताते हैं इस बस के कुछ फायदे 3 गुना होगी फ्यूल एफिसिएंशी- स्टैंडर्ड बसों का ट्रेडिशनल कंबशन इंजन कैमिकल एनर्जी को पावर में बदलने में 20 प्रतिशत से भी कम एफिशिएंट होता है जबकि स्टारबस फ्यूल सेल की एफिशिएंसी 40-60 प्रतिशत तक है जो स्टैंडर्ड से 3 गुना ज्यादा है। इसकी फ्यूल सेल टेक्नोलॉजी फ्यूल कंसम्पशन को 50 प्रतिशत कम कर देती है। KTV24News

संबंधित ख़बरें

Advertise With Us